जॉन अब्राहम की OTT से दूरी, ऐक्‍टर्स से बोले- जिन चीजों के बारे में पता ना हो, उस पर ज्ञान ना दें

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण लंबे वक्‍त तक सिनेमाघर बंद रहे। इस दौरान अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan), अक्षय कुमार (Akshay Kumar), वरुण धवन (Varun Dhawan) जैसे बड़े-बड़े स्टार्स की फिल्में ओटीटी प्‍लैटफॉर्म्‍स (OTT Platforms) पर रिलीज हुईं लेकिन ऐक्टर जॉन अब्राहम (John Abraham) ने इसके बदले थिअटर्स को चुना। उन्‍होंने इंतजार किया और अब उनकी फिल्‍में बड़ी स्‍क्रीन पर आ रही हैं। इसका आगाज इस शुक्रवार यानी 19 मार्च को फिल्म ‘मुंबई सागा’ (Mumbai Saga) से हुआ। नवभारत टाइम्‍स से खास मुलाकात में जॉन ने फिल्म को थिअटर्स में रिलीज करने, ओटीटी प्‍लैटफॉर्म्‍स, कोविड में शूटिंग जैसे कई विषयों पर बात की। बातचीत के अंश:

बीते साल बड़े-बड़े स्टार्स ने अपनी फिल्में ओटीटी पर रिलीज कीं लेकिन आपकी सभी फिल्में ‘मुंबई सागा’, ‘सत्यमेव जयते 2’, ‘अटैक’ थिअटर्स में ही आ रही हैं। इसके पीछे क्या सोच रही?

‘वे लोग (ओटीटी पर फिल्म लाने वाले) शायद कॉन्फिडेंट नहीं थे अपनी फिल्म को लेकर। अगर आप ट्रैक रेकॉर्ड देखो तो जो फिल्में ओटीटी प्‍लैटफॉर्म्‍स पर आईं, सब खराब फिल्में थीं। मुझमें इतना कॉन्फिडेंस है कि मेरी फिल्म बिग स्क्रीन के लिए है। मुंबई सागा में हीरोइजम है, बिग स्केल है तो मैंने बहुत साफ तौर पर ठान लिया था कि यह बड़े पर्दे पर ही आएगी। हालांकि, रिजल्ट कुछ भी हो सकता है। हो सकता है कि हमें नुकसान उठाना पड़े या हो सकता है कि लोग थिअटर (Theatre) में फिल्म देखने आएं लेकिन मुझे डर नहीं है। पिक्चर एक करोड़ कमाए या सौ करोड़, मुझे फर्क नहीं पड़ता है। मेरे लिए यह बड़ी बात है कि यह बिग स्क्रीन की फिल्म थी, बिग स्क्रीन पर ही आई क्योंकि मुझे स्क्रिप्ट लेवल से पता था कि यह फिल्म बड़े पर्दे के लिए है। यह ओटीटी की फिल्म नहीं थी। इसलिए हमने तय किया कि हम इसे बिग स्क्रीन (Big Screen) पर ही लाएंगे। इसी तरह, सत्यमेव जयते 2, अटैक, एक विलन रिटर्न्‍स जैसी सभी फिल्‍में खुशकिस्मती से बिग स्क्रीन वाली फिल्में हैं तो मै चाहता हूं कि मैं बिग स्क्रीन पर ही आऊं।’

आजकल रिऐलिस्टिक फिल्मों का दौर चल रहा है जबकि ‘मुंबई सागा’ 80-90 के दशक के गैंगस्टर वाली कमर्शल फिल्म है। क्या लोग इससे रिलेट करेंगे? आपने यह फिल्म करने का फैसला क्यों किया?

‘मेरे हिसाब से ऑडियंस को हर तरह की फिल्में चाहिए। मैं भी शायद कोई रिऐलिस्टिक फिल्म करूं पर अभी मैं लार्जर दैन लाइफ फिल्में कर रहा हूं। सत्यमेव जयते 2 में इससे भी बड़ा कैरक्टर है। उसमें अवेंजर्स के सारे सुपरपावर हैं। क्या है कि हर प्लैटफॉर्म की ऑडियंस अलग होती है। जैसे ओटीटी की ऑडियंस हर कोने से नुक्ताचीनी करके फिल्म देखती है कि यह ऐसे बननी चाहिए। थिअटर में अलग तरह की फिल्में चलती हैं जो मास फिल्में होती हैं तो अभी मैं मास फिल्में कर रहा हूं। वैसे मैं पहले भी गैंगस्टर फिल्म कर चुका हूं, शूटआउट ऐट वडाला लेकिन वह आठ साल पहले की थी। मुझे गैंगस्टर फिल्में बहुत अच्छी लगती हैं। संजय गुप्ता (Sanjya Gupta) के साथ काम करना मुझे बहुत अच्छा लगता है। फिर यह शूटआउट ऐट वडाला से भी ज्यादा कंप्लीट फिल्म है क्योंकि इसमें इमरान (Emraan Hashmi) का किरदार एक मजेदार कॉन्‍फ्लिक्‍ट लेकर आता है।’

इधर बहुत से ऐक्टर्स ओटीटी पर भी आ रहे हैं। आपका इस ओर क्या रूझान है? आपको ऑफर्स तो आए होंगे?

‘हां, ऑफर्स तो आए लेकिन मैंने सबको मना कर दिया। मैं अपनी फिल्मों में बहुत बिजी हूं। अपनी फिल्मों पर ध्यान दे रहा हूं। अगर ओटीटी पर कुछ अच्छा मिले तो शायद मैं उसके बारे में सोचूं लेकिन आज की तारीख में मैं केवल बिग स्क्रीन फिल्में ही कर रहा हूं। मैं वे बड़ी फिल्में करके बहुत खुश हूं।’

आप लॉकडाउन के बाद से लगातार शूट कर रहे हैं। ‘सत्यमेव जयते 2’ के सेट पर पॉजिटिव केस भी आया, इसे लेकर मन में डर नहीं था?
‘डर तो था ना, क्यों नहीं था लेकिन मेरे डायरेक्टर ने बोला कि जॉन लखनऊ में महामारी का असर है ही नहीं। हालांकि, वहां हमारे सेट पर केस भी हो गया लेकिन सच बोलूं तो वहां लोग काफी लापरवाही भी बरतते हैं। मास्क-वास्क लगाते नहीं हैं। हमने तो सारे प्रोटोकॉल फॉलो किए। हमारा पूरा यूनिट बबल में रहता था, जितने एक्स्ट्रा थे, वे टेस्ट करके आते थे। हम हर दस दिन में कोविड टेस्ट करते थे। मैंने इतने सारे टेस्ट किए हैं पर टचवुड सारे नेगेटिव रहे।’

सोशल मीडिया के दौर में ऐक्टर्स के लिए अपनी पर्सनल लाइफ छिपाना मुश्किल हो चुका है। ज्यादातर ऐक्टर्स तो खुद अपनी निजी जिंदगी की बातें शेयर करते रहते हैं। वहीं, आप अपनी पर्सनल लाइफ काफी सीक्रेट रखते हैं। ऐसा क्यों?
‘मेरी सोच थोड़ी अलग है। जो दूसरे ऐक्टर्स शेयर करते हैं, वह भी गलत नहीं हैं। वह उनका चॉइस है। उनको अच्छा लगता है ऑडियंस को बताना कि क्या खा रहे हैं, कब टॉइलट जा रहे हैं, कब बाहर आ रहे हैं, वे इंजॉय करते हैं। मैं बहुत ही प्राइवेट इंसान हूं। मैं मानता हूं कि मेरी निजी जिंदगी अलग होनी चाहिए। बाकी मेरी जो स्क्रीन इमेज है, जो स्क्रीन पर दिखती है, फिटनेस, फुटबॉल, मोटसाइकिल, मैं उनके बारे में ही पोस्ट करता हूं। फिर ट्रेंडिंग कल्चर से तो मुझे बहुत डर लगता है। मैं देखता हूं कि ये जो सारे ट्रेंड होते हैं और जो ट्रेंड करते हैं, सारे जोकर्स और बेवकूफ हैं। आप देखो, ये सारे ट्रेंड, सब मजाक लगता है। इसलिए मैं ट्रेंड नहीं होना चाहता तो मैं उससे भी अलग रहता हूं।’

बीता साल इंडस्ट्री के लिए भी काफी मुश्किल रहा, हर मायने में। इस इंडस्ट्री के बारे में कोई ऐसी चीज है, जो मौका मिले तो आप बदलना चाहेंगे?
‘इंडस्ट्री अच्छी जगह है। बस मैं अपने इंडस्ट्रीवालों से इतना ही कहूंगा कि अभी सोशल मीडिया (Social Media) आ गया है तो प्लीज जिन चीजों पर आपकी जानकारी नहीं है, उस पर कॉमेंट न करें। जैसे, आपको सीएए (CAA), एनआरसी (NRC) या किसानों के आंदोलन (Farmers Protest) के बारे में पता नहीं है तो उस बारे में कॉमेंट ना करें। वह कम से कम आपको एक जिम्मेदार भारतीय नागरिक बनाएगा। आधा ज्ञान बहुत ही खतरनाक होता है तो मैं अपने को-ऐक्टर्स से ये दरख्वास्त करूंगा कि इस पर थोड़ा कंट्रोल करें।’

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Reviews

मैं आपकी आदर्श वेब उपभोक्ता नहीं हूं : तमन्ना भाटिया

नयी दिल्ली, 13 मई (भाषा) अभिनेत्री तमन्ना भाटिया ने कहा कि वह आदर्श वेब उपभोक्ता (दर्शक)नहीं हैं क्योंकि ‘वह लंबे समय तक ध्यान नहीं दे पातीं’ जबकि जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए। इस समय भाटिया तमिल क्राइम थ्रिलर ‘नवंबर स्टोरी’ की पटकथा में व्यस्त हैं। यह सात […]

Read More
Reviews

जरीन खान के मुंह पर फिल्‍म मीटिंग में कहा गया- आप सुंदर हैं, सीरियस रोल में अच्‍छी नहीं लगेंगी

ऐक्ट्रेस जरीन खान (Zareen Khan) अपनी नई फिल्म ‘हम भी अकेले तुम भी अकेले’ (Hum Bhi Akele Tum Bhi Akele) को लेकर चर्चा में हैं। वह इसमें एक लेस्बियन लड़की के किरदार में नजर आ रही हैं। फिल्म में जरीन को उनकी अदाकारी के लिए काफी सराहा जा रहा है। ऐसे में नवभारत टाइम्‍स ने […]

Read More
Reviews

कोरोना के बीच गुरमीत चौधरी बोले- रोज लगते हैं झटके, अब रियल लाइफ में हीरो बनना है

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते प्रकोप के बीच छोटे और बड़े पर्दे के जाने-माने अभिनेता गुरमीत चौधरी (Gurmeet Choudhary) लोगों की मदद को आगे आए हैं। वह सोशल मीडिया के जरिए कोरोना से बदहाल लोगों को बेड, इंजेक्शन, ऑक्‍सिजन, वेंटिलेटर, प्लाज्मा जैसी चीजें मुहैया करवा रहे हैं। उन्‍होंने हाल ही में पटना, लखनऊ समेत कई […]

Read More