Breaking News

Irrfan Khan की Flop films से परेशान होकरने ले लिया था मुंबई छोड़ने का फैसला, इस शख्स ने कहा था 'रुक जा अभी एक नेशनल अवॉर्ड...'


कुछ कलाकार हमारे दिलो दिमाग में एक ऐसी छाप छोड़ जाते हैं जिसे हम चाहकर भी अपने जेहन से नहीं निकाल सकते हैं। इरफान खान का नाम ऐसे ही कलाकारों की लिस्ट में शुमार है। आज दिन में इरफान खान (Irrfan Khan) ने मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में अंतिम सांस ली है और जब से अभिनेता के निधन की खबर सामने आई है, तब से हर कोई स्तब्ध है। इरफान खान की जिंदगी से जुड़ी कई ऐसी बातें हैं जिन्हें आप जानेंगे तो शायद कभी अपनी जिंदगी से निराश नहीं होंगे। कई दफा हमारी जिंदगी में ऐसे पल आते हैं जब लगता है कि सब कुछ छोड़कर किसी एकांत में चला जाए। कुछ ऐसे ही पल इरफान की जिंदगी में भी आए थे, लेकिन अभिनेता ने सही समय पर ऐसा चौका मारा कि सारे दुख और निराशा के भाव उनसे मीलों दूर चले गए। 




फिल्म 'पान सिंह तोमर' को साइन करने से पहले इरफान खान को मुंबई में रुकने की कोई वजह नजर नहीं आ रही थी। सालों से बॉक्स ऑफिस पर औैंधे मुंह गिरती फिल्मों ने इरफान खान की हिम्मत को धीरे-धीरे तोड़ दिया था। बीच में इरफान ने टीवी के भी कुछ प्रोजेक्ट्स उठाए लेकिन इस दौरान उन्होंने अपने मन में एक्टिंग की दुनिया को अलविदा कहने का भी इरादा कर लिया था। इरफान खान सब कुछ छोड़कर मुंबई से वापस अपने घर जाने वाले थे, लेकिन जब इस बात की भनक डायरेक्टर और खास दोस्त तिग्मांशु धूलिया (Tigmanshu Dhulia) को लगी तो उन्होंने इरफान को वापस जाने मना किया। उस समय तिंग्मांशु ने उनसे सिर्फ इतना कहा 'अभी रुक जा...जाने से पहले तुझे एक नेशनल अवॉर्ड तो दिला दें...।

इस वाकये के बाद तिग्मांशु धूलिया ने इरफान खान को फिल्म 'पान सिंह तोमर' की कहानी सुनाई और उन्होंने कहानी सुनते ही इस फिल्म के लिए झट से हां भी कह दी। फिल्म बनी और साल 2012 में रिलीज हुई। इस फिल्म के जरिए इरफान खान ने लोगों से खूब वाहवाही बटोरी। क्रिटिक्स को भी ये फिल्म बहुत पसंद आई और इसी फिल्म के लिए इरफान खान को नेशनल अवॉर्ड भी मिला था। इस फिल्म के बाद इरफान खान ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और तीन साल पहले रिलीज हुई फिल्म 'हिंदी मीडियम' के जरिए इरफान खान ने बॉक्स ऑफिस पर भी खूब धमाल मचाया। ये फिल्म चाइना में भी रिलीज हुई और चाइनीज बॉक्स ऑफिस पर तो इस फिल्म ने कई रिकॉर्ड भी तोड़े थे। 



बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिरी थीं ये फिल्में...
चॉकलेट, चेहरा, रोग, आन: मेन एट वर्क, धुंध, गुनाह, घात, हिस्स, राइट या रॉन्ग, क्नॉक आऊट, थैंक यू और चिल्लर पार्टी जैसी फिल्मों ने इरफान खान को निराश किया था। खैर, जिस तरह से इरफान खान ने मुंबई से जाने के फैसले को बदल लिया, उससे यही सीख मिलती है कि जिंदगी से कभी निराश नहीं होना चाहिए।
कुछ कलाकार हमारे दिलो दिमाग में एक ऐसी छाप छोड़ जाते हैं जिसे हम चाहकर भी अपने जेहन से नहीं निकाल सकते हैं। इरफान खान का नाम ऐसे ही कलाकारों की लिस्ट में शुमार है। आज दिन में इरफान खान (Irrfan Khan) ने मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में अंतिम सांस ली है और जब से अभिनेता के निधन की खबर सामने आई है, तब से हर कोई स्तब्ध है। इरफान खान की जिंदगी से जुड़ी कई ऐसी बातें हैं जिन्हें आप जानेंगे तो शायद कभी अपनी जिंदगी से निराश नहीं होंगे। कई दफा हमारी जिंदगी में ऐसे पल आते हैं जब लगता है कि सब कुछ छोड़कर किसी एकांत में चला जाए। कुछ ऐसे ही पल इरफान की जिंदगी में भी आए थे, लेकिन अभिनेता ने सही समय पर ऐसा चौका मारा कि सारे दुख और निराशा के भाव उनसे मीलों दूर चले गए। 

फिल्म 'पान सिंह तोमर' को साइन करने से पहले इरफान खान को मुंबई में रुकने की कोई वजह नजर नहीं आ रही थी। सालों से बॉक्स ऑफिस पर औैंधे मुंह गिरती फिल्मों ने इरफान खान की हिम्मत को धीरे-धीरे तोड़ दिया था। बीच में इरफान ने टीवी के भी कुछ प्रोजेक्ट्स उठाए लेकिन इस दौरान उन्होंने अपने मन में एक्टिंग की दुनिया को अलविदा कहने का भी इरादा कर लिया था। इरफान खान सब कुछ छोड़कर मुंबई से वापस अपने घर जाने वाले थे, लेकिन जब इस बात की भनक डायरेक्टर और खास दोस्त तिग्मांशु धूलिया (Tigmanshu Dhulia) को लगी तो उन्होंने इरफान को वापस जाने मना किया। उस समय तिंग्मांशु ने उनसे सिर्फ इतना कहा 'अभी रुक जा...जाने से पहले तुझे एक नेशनल अवॉर्ड तो दिला दें...।



इस वाकये के बाद तिग्मांशु धूलिया ने इरफान खान को फिल्म 'पान सिंह तोमर' की कहानी सुनाई और उन्होंने कहानी सुनते ही इस फिल्म के लिए झट से हां भी कह दी। फिल्म बनी और साल 2012 में रिलीज हुई। इस फिल्म के जरिए इरफान खान ने लोगों से खूब वाहवाही बटोरी। क्रिटिक्स को भी ये फिल्म बहुत पसंद आई और इसी फिल्म के लिए इरफान खान को नेशनल अवॉर्ड भी मिला था। इस फिल्म के बाद इरफान खान ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और तीन साल पहले रिलीज हुई फिल्म 'हिंदी मीडियम' के जरिए इरफान खान ने बॉक्स ऑफिस पर भी खूब धमाल मचाया। ये फिल्म चाइना में भी रिलीज हुई और चाइनीज बॉक्स ऑफिस पर तो इस फिल्म ने कई रिकॉर्ड भी तोड़े थे। 

बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिरी थीं ये फिल्में...
चॉकलेट, चेहरा, रोग, आन: मेन एट वर्क, धुंध, गुनाह, घात, हिस्स, राइट या रॉन्ग, क्नॉक आऊट, थैंक यू और चिल्लर पार्टी जैसी फिल्मों ने इरफान खान को निराश किया था। खैर, जिस तरह से इरफान खान ने मुंबई से जाने के फैसले को बदल लिया, उससे यही सीख मिलती है कि जिंदगी से कभी निराश नहीं होना चाहिए।

No comments