Breaking News

Irrfan Khan ने आखिरी सांस लेने से पहले लोगों की मदद के लिए बिना किसी को बताए दान किया था।


कोरोना वायरस लॉकडाउन में बॉलीवुड जगत ने अपने कई चमकते सितारों को हमेशा के लिए खो दिया है। इन सितारों में एक नाम बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान (Irrfan Khan) का भी है जिनको अलविदा कहे पूरा एक महीना हो चुका है लेकिन उनके फैंस और परिवार आज भी उनको रोजाना याद करता है। वहीं इरफान खान भी फैंस को बहुत अहमियत देते थे। शायद यही वजह थी जो अंतिम सांस लेने से पहले उन्होंने कोरोना वायरस से जूझ रहे लोगों के लिए दान किया था। इस बात का खुलासा इरफान खान के एक करीबी दोस्त ने किया है। 


 Irrfan Khan ने आखिरी सांस लेने से पहले लोगों की मदद के लिए बिना किसी को बताए दान किया था।


एंटरटेनमेंट वेब पोर्टल पिंकविला से बात करते हुए इरफान खान के दोस्त जिआउल्लाह ने बताया कि, 'कोरोना वायरस से लड़ने के लिए मैं अपनी टीम के साथ फंड इकट्ठा कर रहा था। जयपुर में मैंने इरफान खान के बड़े भाई से इस बारे में बात की तो उन्होंने मदद करने के लिए हामी भर दी। भाई के साथ साथ इरफान खान ने भी उस समय हमें डोनेशन दिया था। दान करते हुए इरफान खान ने केवल एक ही शर्त रखी थी कि इस बारे में कभी किसी को कुछ न पता चले।



आगे इरफान खान के दोस्त जिआउल्लाह ने बताया कि, 'उनका मानना था कि दान बिना बताए किया जाता है। दाएं हाथ को भी इस बात की भनक नहीं लगनी चाहिए कि बाएं हाथ से क्या दिया जा रहा है। उनके लिए लोगों की मदद ज्यादा जरुरी थी। मैं अब ये बात केवल इसलिए बता रहा हूं क्योंकि इरफान खान अब इस दुनिया में नहीं है। अगर वह सही सलामत होते तो मैं इस बारे में कभी कोई जिक्र नहीं करता। उनके जाने के बाद अब ये मेरी जिम्मेदारी है कि इरफान खान के हर अच्छे काम के बारे में मैं दुनिया को पता चले ताकि लोगों के दिलों में उनके लिए इज्जत और भी बढ़ जाए।









जिआउल्लाह ने खुलासा किया कि, 'मेरे साथ इरफान खान की काफी सुनहरी यादें जुड़ी हैं। उनको त्योहार के मौके पर पतंग उड़ाना बहुत पसंद था। वह हर ईद पर जयपुर आने की पूरी कोशिश करते थे। घर आकर वह अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताया करते थे और पुराने दिन याद करते थे। वह अपने बचपन की पतंगों को बेड के सिरहाने रख कर सोते थे। जयपुर में वह सबके साथ खुशियां बांटते थे। चाहे पतंग के खेल में वो हारे या जीते उनके चेहरे की खुशी हमेशा बरकरार रहती थी।


No comments