Breaking News

Mahesh Bhatts का नाम लेकर रिया चक्रवर्ती के बारे में इस महिला ने लिख दिया कुछ ऐसा, ट्रोल होते ही डिलीट कर दी पोस्ट



Mahesh Bhatts का नाम लेकर रिया चक्रवर्ती के बारे में इस महिला ने लिख दिया कुछ ऐसा, ट्रोल होते ही डिलीट कर दी पोस्ट


सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या ने पूरी फिल्म इंडस्ट्री को हिलाकर रख दिया है। उनकी असामयिक मौत ने न सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री में ‘बाहरी लोगों’ के साथ किए जाने वाले बर्ताव पर उंगली उठाई है बल्कि इसके साथ ही उनके करीबी लोगों पर भी सवाल किए जा रहे है। सबसे ज्यादा गुस्सा तो एक्टर के फैंस का उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती पर निकल रहा है। रिया चक्रवर्ती को हाल ही में मुंबई पुलिस ने भी पूछताछ के लिए बुलाया था। जहां कथित तौर पर एक्ट्रेस ने सुशांत सिंह राजपूत के डिप्रेशन में होने की बात का खुलासा किया था। तो वहीं, उनके मेंटर महेश भट्ट के भाई मुकेश भी सुशांत सिंह राजपूत के डिप्रेशन को लेकर बड़ा बयान दे चुके थे।



इतना ही नहीं, इसी बीच रिया चक्रवर्ती और महेश भट्ट की पुरानी इंटीमेट फोटोज में सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुईं थी। जिसमें अदाकारा अपने मेंटर के साथ काफी करीबी दिखाई दे रही थी। इसे लेकर भी सुशांत सिंह राजपूत के चाहने वाले सवाल उठाने लगे थे। ये फोटोज उनकी फिल्म जलेबी के दिनों की थी। जिसमें रिया चक्रवर्ती ने अपना बॉलीवुड डेब्यू किया था। रिया चक्रवर्ती के लगातार सवालों के घेरे में आने के बाद भट्ट कैंप की एक महिला ने सामने आकर उन्हें सपोर्ट किया है। 

सुचरिता दास ने हाल ही में एक फेसबुक पोस्ट लिखकर रिया चक्रवर्ती की हौसलाअफजाई की थी। इसके साथ ही उन्होंने महेश भट्ट संग एक्ट्रेस के प्रोफेशनल रिश्तों की भी बात की है। इसके आगे इसी पोस्ट में उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के डिप्रेशन में होने की बात को भी स्वीकारा है। हालांकि सुचरिता दास की इस पोस्ट को लेकर सुशांत सिंह राजपूत के फैंस काफी भड़क गए थे और उन्होंने सुचरिता दास को जमकर सुनाया था। जिसके बाद उन्होंने अपनी इस पोस्ट को डिलीट कर दिया। लेकिन तब तक उनकी इस पोस्ट का स्क्रीनशॉट काफी वायरल हो गया था। इस पोस्ट के स्क्रीनशॉट को आप नीचे देख सकते हैं।






क्या लिखा है सुचरिता दास ने?
इस पोस्ट में सुचरिता दास ने लिखा है, ‘डियर रिया, जब पूरी दुनिया सुशांत सिंह राजपूत के लिए अपना दुख जता रही है तब मैं आपके हौसले और मजबूत साहस की दाद देती हूं। जिसके दम पर आपने उन्हें अपने साथ रखने और कदम-कदम पर सपोर्ट करने की भरपूर कोशिश की थी। मैं आपकी इन कोशिशों की मूक दर्शक रही हूं। ये एक मां के दौर पर और एक नागरिक के रूप में सभी को बताना चाहती हूं कि डिप्रेशन एक गंभीर बीमारी है और साइंस के पास भी इसका सही इलाज नहीं है। जब भी आप भट्ट साहब से सुशांत के बारे में सलाह लेने के लिए आती थी या उनसे फोन पर बात करती थी। मैंने आपकी कोशिशों को आपके संघर्ष को देखा है। मैं उस शाम को भूल नहीं सकती जब सुशांत के घर की छत पर हम सबने महसूस किया था कि सबकुछ कितना सामान्य था। जबकि असल में अंदर से कुछ फिसल रहा था। सर ने भी इसे देखा था। इसी वजह से उन्होंने आपको परवीन बॉबी की याद दिलाते हुए चेतावनी ती थी कि उससे दूर चले जाओ नहीं तो ये तुम्हें अपने साथ ले जाएगा। आपने उन्हें संभालने के लिए अपना सब कुछ दिया। लव यू माई जलेबी। हमेशा मजबूत रहो।’


No comments