Breaking News

Sushant Singh Rajput केस की जांच करने पहुंचे एसपी को जबरदस्ती क्वारंटाइन करने पर बहन ने लगाई मुंबई पुलिस की फटकार, बिहार डीजीपी ने बुलाई बैठक



Sushant Singh Rajput केस की जांच करने पहुंचे एसपी को जबरदस्ती क्वारंटाइन करने पर बहन ने लगाई मुंबई पुलिस की फटकार, बिहार डीजीपी ने बुलाई बैठक


बीते हफ्ते सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने बिहार में सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। जिसके बाद बिहार पुलिस की एक टीम मुंबई में जांच के लिए रवाना हो गई थी। बीते कई दिनों से बिहार पुलिस इस केस की छानबीन कर रही है। इसी बीच बिहार पुलिस ने आरोप लगाए थे कि मुंबई पुलिस उनको सहयोग नहीं कर रही है। जिसके बाद बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने महाराष्ट्र सरकार से मदद की अपील की थी। बीते दिन ही सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच पड़ताल करने के लिए पटना के एसपी विनय तिवारी मुंबई पहुंचे थे।



मुंबई पहुंचते ही विनय तिवारी को कोरोना गाइडलाइन्स के तहत क्वारंटीन कर दिया गया है। मुंबई पुलिस के इस फैसले की वजह से सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी सुलझा रही बिहार और मुंबई पुलिस अब आमने आमने आ चुकी है। दोनों राज्यों की पुलिस के बीच तनाव काफी बढ़ गया है। यही वजह है जो इस मामले को सुलझाने के लिए बिहार डीजीपी ने आनन फानन मीटिंग बुलाई है। 

वहीं विनय कुमार भी इस मुद्दे पर खुलकर बात कर रहे हैं। एबीपी न्यूज से बात करते हुए विनय तिवारी ने कहा कि, मुंबई एयरपोर्ट पर मुझे किसी ने नहीं रोका। बाद में मुझे बताया गया कि महाराष्ट्र सरकार ने ये आदेश दिए हैं। मैं आधिकारिक तौर पर यहां पर आया हूं। मुझे छूट दी जा सकती थी। उन्होंने मेरा किसी तरह का कोई सैंपल नहीं लिया है। 15 अगस्त कर मुझे आइसोलेशन में ही रहना होगा। मैं वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए मैं टीम के संपर्क में रहूंगा।

वहीं सुशांत सिंह राजपूत केस की बहन ने भी विनय कुमार को क्वारंटीन करने पर नाराजगी जाहिर की है। ट्वीटर पर सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने लिखा कि, 'क्या ये सच है? क्या किसी ऑन ड्यूटी ऑफिसर को 14 दिनों के लिए आइसोलेट किया जा सकता है? मुंबई पुलिस ऐसा कैसे कर सकती है।






वहीं ये खबर सामने आने के बाद सुशांत सिंह राजपूत के फैंस भी महाराष्ट्र सरकार और पुलिस पर जमकर बरस रहे हैं। सोशल मीडिया पर लोग मुंबई पुलिस को जमकर खरीखोटी सुना रहे हैं और आरोप लगा रहे हैं कि मुंबई पुलिस सच को छिपाने के लिए इस तरह के कदम उठा रही है। हंगामा बढ़ते देखकर कुछ समय पहले ही मुंबई पुलिस ने बयान दिया है कि दिशा सालियान की फाइल डिलीट नहीं हुई हैं।


No comments